लोकतंत्र का चौथा स्तंभ से गोदी मीडिया का सफर

उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी, सूचना प्रसारण मंत्री अंबिका सोनी, एचआरडी मिनिस्टर कपिल सिब्बल, कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी, भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी, सुषमा स्वराज, विपक्ष के नेता अरुण जेटली, सीपीआई नेता प्रकाश करात, आंध्र के सीएम के.रोसैय्याह, अभिनेता अमिताभ बच्चन जैसे देश के दिग्गजों ने इस ” पैड न्यूज” के खेल पर चिन्ता व्यक्त करते हैं Continue reading लोकतंत्र का चौथा स्तंभ से गोदी मीडिया का सफर

क्या आप जानते हैं जेएनयू वाले फर्जी वीडियो के पीछे स्मृति ईरानी और शिल्पी तिवारी का क्या योगदान था?

क्या गोदी मीडिया और भाजपा नेताओं ने कभी बताया कि उस फर्जी वीडियो के पीछे स्मृति ईरानी की खासम खास शिल्पी तिवारी का हाथ था? रोहित हत्या मामले से बचाने के लिए प्लांट किया गया था! उस वीडियो के फर्जी होने का सत्यापन मार्च 2016 को हो चुका था।
Continue reading क्या आप जानते हैं जेएनयू वाले फर्जी वीडियो के पीछे स्मृति ईरानी और शिल्पी तिवारी का क्या योगदान था?

पीड़िता की पहचान उजागर करने मे शामिल दो कथित अधिवक्ता सह पत्रकार की संदिग्ध भूमिका क्या ” Quid pro quo ” है?

जिस प्रकार इन खबरों को प्लांट किया गया है वह देखकर लगता है जैसे इस केस के आड़ में सामूहिक बलात्कार के आरोपियों को बचाने की कोशिश की जा रही हो Continue reading पीड़िता की पहचान उजागर करने मे शामिल दो कथित अधिवक्ता सह पत्रकार की संदिग्ध भूमिका क्या ” Quid pro quo ” है?

बलात्कार पीड़िता को बदनाम करने के मकसद मे लिप्त देश के दो प्रमुख अखबार

यह सीधे तौर पर भारतीय दंड संहिता 228A के तहत एक कानूनन जुर्म है, इसके अनुसार किसी बलात्कार पीड़ित से जुड़ी खबर/ जानकारी/सूचना देते हुए उसकी निजता भंग नहीं किया जा सकता, ऐसा करना अपराध की श्रेणी मे माना जाएगा Continue reading बलात्कार पीड़िता को बदनाम करने के मकसद मे लिप्त देश के दो प्रमुख अखबार